तुर्कमानपुर, गोरखपुर
जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरियसी

* परिचय एवं उद्देश्य
* प्रवेश विवरणिका
* स्मृतियाँ
* आपके सुझाव

प्रबन्ध समिति की कलम से

भारतीय संस्कार शिक्षा मंदिर पूर्व माध्यमिक विद्यालय, तुर्कमानपुर विद्यालय परिवार अभिभावको एवम् छात्रो का हार्दिक अभिनंदन करता है | आशा ही नही अपितु हमें पूर्ण विश्वास है कि आप सब लोगों से विगत अनेक वर्षों में विद्यालय को जो असीम स्नेह एवम् आशीर्वाद प्राप्त हुआ है वह भविष्य में भी प्राप्त होता रहेगा | यह संस्थान आपका है और आपसे हमारा सदैव निवेदन रहा है कि हमसे त्रुटि हो सकती है, कभी भी हो सकती है किंतु समय-समय पर आपके समुचित मार्गदर्शन में हम अपनी कमियों में सुधार लाकर आपके अभिभाव्य का पठन-पठान सुचारू रूप से संचालित करने का प्रयास करेंगे | आपने और हमनें मिलजुल कर सुधारात्मक दृष्टिकोण अपनाया भी है, जिससे छात्रो में गुणात्मक विकास संभव हो सका है, आगे भी हम और अधिक परिश्रम करेंगे जिससे आपको हममें विश्वास अधिक हो |

देश के संक्रमण कल में हम सबका उत्तरदायित्व बढ़ जाता है, हमें अपने समाज एवम् देश का भविष्य सजोना है जिसके लिए आवश्यकता है की हमारा भविष्य अर्थात हमारी संतानों के अंदर देश, समाज और परिवार के प्रति ममता, सत्यनिष्ठा, त्याग एवम् सुसंस्कारयुक्त शैली की योग्यतपूर्वक समावेश करने की | यही कार्य हम भारतीय संस्कार शिक्षा मंदिर पूर्व माध्यमिक विद्यालय, तुर्कमानपुर के माध्यम से समाज में कर रहें हैं | हमने कक्षा लव, कुश से अष्टम तक पठन-पठान की सह शिक्षा व्यवस्था की है | हमारी इच्छा एवम् प्रयास है की अपने विद्यालय के माध्यम से देश, समाज एवम् परिवार को सुसंस्कारयुक्त एवम् कर्मठ भावी नागरिक प्रदान कर सकें, जिससे हमारे पूर्वजों एवम् महापुरुषों के मान मर्यादा की रक्षा हो |